समर्थक

मार्च 15, 2013

====हर पल साथ रहना ओ मेरे प्रभु ====

हर पल साथ रहना ओ मेरे प्रभु
======================

दुःख दिया है तो बाँट लेना ओ मेरे प्रभु |
दुखी हूँ जब मैं तो साथ देना ओ मेरे प्रभु|
मझधार में जब मैं कभी अटकू बेड़ा-पार करना ओ मेरे प्रभु |
कभी गलत रास्तें पर मैं न चलू तू रास्ता दिखाना ओ मेरे प्रभु |
गलती से भी संकट में फंस जाऊँ तो तू संकट-मोचन बन आना ओ मेरे प्रभु |
दृष्टि-भ्रमित हो जब कभी मेरी तू पथ-प्रदर्शक बन रहना ओ मेरे प्रभु |
दुःख के सागर में जब मैं डूबू तो तू खेवनहार बनना ओ मेरे प्रभु |
सुखों का अम्बर जो दिया है हमें उसमें दुःख की बदली ना देना ओ मेरे प्रभु |
कोई कांटा बिखेरे जो रास्ते में मेरे प्रभु तू उन काँटों को फूल बना देना ओ मेरे प्रभु|
जब कभी दुखी हूँ मैं तो मनमोहन बन खुशियाँ बिखेर जाना ओ मेरे प्रभु ||

||सविता मिश्रा ||
३०/३/२०१२

कोई टिप्पणी नहीं: