समर्थक

फ़रवरी 20, 2017

अभिशाप-


दहेजवा क बात
हम का करी ओ भईया
दहेजवा से अछूता
न रहल बाटय कोई घरवा |

हर लड़की क बाप
 देथिन ई दहेजवा
न जाने कवोने जमाने से
चला आवत बा ई दहेजवा |

देहे रहलेंन
राजा जनक भी
खूब ढेर क दहेजवा
बनि गईल बाटय
समाज क अभिशपवा
अब ता ई दहेजवा |

हालत ऐसन भईल बाटय कि
जबरन लेथिन
 ई दहेजवा
लड़कियन के जलाय 

मार डालथिन
मिलय न अगर ई दहेजवा | सविता

कोई टिप्पणी नहीं: